मुस्लिम राष्ट्रीय मंच द्वारा वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन कर पर्यावरण संरक्षण का दिया सन्देश।

संवाददाता सतीश कुमार पाण्डेय मऊ

                                               

कोपागंज/मऊ

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच गोरक्ष प्रांत द्वारा वृक्षारोपण कार्यक्रम कर लोगों को पर्यावरण और वृक्षारोपण के प्रति जागरूक करते हुए प्रांत सह संयोजक अली ज़फ़र ने कहा कि हमारे देश भारत की संस्कृति एवं सभ्यता वनों में ही पल्लवित तथा विकसित हुई है यह एक तरह से मानव का जीवन सहचर है वृक्षारोपण से प्रकृति का संतुलन बना रहता है वृक्ष अगर ना हो तो सरोवर (नदियां ) जल के बिना सुख जाएँगी जिससे हमारा जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ेगा। वृक्षों की जड़ों से वर्षा ऋतु का जल धरती के अंक में पहुँचताहै, यही जल स्त्रोतों में गमन करके हमें अपर जल राशि प्रदान करता है वृक्षारोपण मानव समाज का सांस्कृतिक दायित्व भी है, क्योंकि वृक्षारोपण हमारे जीवन को सुखी संतुलित बनाए रखता है। वृक्षारोपण हमारे जीवन में राहत और सुखचैन प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि भारत की सभ्यता वनों की गोद मे ही विकासमान हुई है। हमारे यहां के ऋषि मुनियों ने इन वृक्ष की छांव में बैठकर ही चिंतन मनन के साथ ही ज्ञान के भंडार को मानव को सौपा है। वैदिक ज्ञान के वैराग्य में, आरण्यक ग्रंथों का विशेष स्थान है वनों की ही गोद में गुरुकुल की स्थापना की गई थी। इन गुरुकुलो में अर्थशास्त्री, दार्शनिक तथा राष्ट्र निर्माण शिक्षा ग्रहण करते थे इन्ही वनों से आचार्य तथा ऋषि मानव के हितों के अनेक तरह की खोजें करते थे ओर यह क्रम चला ही आ रहा है। पक्षियों का चहकना, फूलो का खिलना किसके मन को नहीं भाता है इसलिए वृक्षारोपण हमारी संस्कृती में समाहित है।अफजल अंसारी जी ने लोगों का अभिवादन किया I
पौधरोपण के दौरान ज़िला सह संयोजक अफजल अंसारी, धर्म जागरण मंच के ज़िला संयोजक बिंदुकांत त्रिपाठी, आसिफ, कौनैन, नसीम, सूरज,मस्जूद,असग़र, सिबतैन इत्यादि मंच के कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post विधायक घोसी के गाड़ी को रोक कर सपा के लोगों द्वारा किए गए विरोध प्रदर्शन पर भाजपा के जिला अध्यक्ष ने किया घोर निंदा।
Next post दुकान से चोरों ने लाखो का माल किए पार।