पत्रकार वार्ता का हुआ आयोजन।

Advertisement
Advertisement

दस सहस्त्र युवाओं द्वारा किये जा रहे सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान का आयोजन।

वाराणसी/संसद वाणी

आज दिनांक 05.05.2022 दिन वृहस्पतिवार को पराड़कर भवन मैदागित पर एक पत्रकार वार्ता का आयोजन हुआ, पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुये गायत्री तीर्थ शान्तिुकुंज हरिद्वार प्रतिनिधि श्री आशीष कुमार सिंह जी ने कहा कि दिनांक 08.05.2022 को गायत्री तीर्थ शांतिकुंज बहरिद्वार के तत्वावधान एवं युवा प्रकोष्ठ उपजोन, वाराणसी के संयोजन में दस सहस्त्र युवाओं द्वारा काशी स्थित सभी घाटों पर सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान सुबह 07.00 बजे से किया जायेगा। कायक्रम के सन्दर्भ में बताया कि परम पूज्य गुरूदेव पण्डित श्रीराम शर्मा आचार्य जी को गायत्री मंत्र की दीक्षा देने वाले पं0 मदन मोहन मालवीय जी की इच्छा रही कि दस हजार युवा एक साथ सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान काशी के गंगा तट पर करें। अपने गुरू की इस पीड़ा का उल्लेख परम पूज्य गुरूदेव अपने पुस्तकों में किया है। पं0 मदन मोहन मालवीय जीे की इच्छा को पूर्ण करने के उद्देश्य से गायत्री तीर्थ शांतिकुंज हरिद्वार ने दस सहस्त्र युवाओं द्वारा सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान का कार्यक्रम आयोजित किया है। कार्यक्रम को सकुशल सम्पन्न कराने हेतु युवा प्रकोष्ठ वाराणसी एवं गायत्री परिवार रचनात्मक ट्रस्ट को प्रभार दिया गया है। इसी कड़ी में श्री आशीष कुमार सिंह जी ने बताया कि सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान की पूर्व संध्या दिनांक 07.05.2022 को विराट जन-जागरण दीप महायज्ञ का आयोजन सायं 07.00 बजे से किया जायेगा, जिसमें चौबीस हजार दीप प्रज्जवलित किये जायेंगे। विराट जन-जागरण दीप महायज्ञ का कार्यक्रम वाराणसी स्थित राज घाट, पं0 श्रीराम शर्मा आचार्य घाट, दशाश्वमेध घाट, अस्सी घाट सहित अन्य प्रमुख घाटों पर किया जायेगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार के प्रति कुलपति एवं अखिल विश्व गायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ के प्रमुख श्रद्धेय डॉक्टर चिन्मय पाण्ड्या जी एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष आदरणीय श्री लक्ष्मण आचार्य जी होंगे, जो दिनांक 07.05.2022 को राजघाट पर बने विशाल मंच से उपस्थित जन को सम्बोधित करेंगे एवं दिनांक 08.05.2022 को दस सहस्त्र युवाओं द्वारा किये जा रहे सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान का संचालन करेंगे।
कार्यक्रम संयोजक एवं जिला समन्वयक पं. गंगाधर उपाध्याय ने पत्रकार बन्धुओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि दिनांक 08.05.2022 को दस सहस्त्र युवाओं द्वारा किये जा रहे सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान का सफल संचालन में केन्द्रीय देव दीपावली महासमिति, पहल समाजोत्कर्ष समिति, काशी विश्वनाथ दल, नाविक समाज,काशी गुजराती समाज, काशी बंगीय समाज आदि के साथ ही साथ देव दीपावली एवं गंगा आरती की काशी के गंगा घाटों पर समस्त संस्थाओं की भागीदारी प्रमुखता से इस कार्यक्रम को प्राप्त होगी । गायत्री परिवार इस सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान को विश्व स्तरीय स्वरूप प्रदान करने का प्रयास कर रहा है, जो निश्चित रूप से सफल होगा।
पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुये केन्द्रीय देव दीपावली महासमिति के अध्यक्ष श्री वागीश दत्त मिश्र जी ने बताया कि जिस तरह देव दीपावली पर काशी के घाट दीपों की रोशनी से आलोकित होते है, उसी तरह काशी के समस्त घाटों पर युवा इकट्ठा होकर सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान कर विश्व को भारतीय संस्कृति, संस्कार एवं परम्परा का संदेश देंगे। महासमिति का यह प्रयास है कि काशी के समस्त घाट सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान की पूर्व संध्या दिनांक 07.05.2022 को सायं 07.30 बजे दीपों की रोशनी से आलोकित हो सकें। गायत्री परिवार के इस विश्व स्तरीय कार्यक्रम को जन-जन की भागीदारी हेतु प्रयास किया जा रहा है।
पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुये पहल समाजोत्कर्ष समिति के अध्यक्ष श्री आलोक पारिख जी ने कहा कि काशी के धरती पर दस हजार युवाओं द्वारा सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान का विश्व स्तरीय कार्यक्रम पहली बार हो रहा है। गायत्री परिवार द्वारा यह विश्व स्तरीय कार्यक्रम युवाओं में भारतीय संस्कृति,संस्कार एवं भारतीय परम्परा से जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेंगा। पहल समाजोत्कर्ष समिति पूरे मनोभाव से कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण योगदान प्रदान करने हेतु कृत संकल्पित है। दस सहस्त्र युवाओं द्वारा किये जा रहे सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान पं0 मदन मोहन मालवीय जी के सपनों को पूरा करेगा।
पत्रकार वार्ता में वाराणसी जाने के प्रभारी श्री प्रसेन सिंह, उपजोन प्रभारी श्री सुरेश चन्द्र यादव, आदित्य पाण्डेय, कैलाश पति मौर्य, एवं मीडिया प्रभारी रमन कुमार श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहें।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post कम्पटीशन में सफल होने के लिए पढ़ाई के अलावा अन्य एक्टिविटी सीखना जरूरी है: जिलाधिकारी
Next post जनपद में मिशन इंद्रधनुष का तीसरा चरण शुरू