पानी की समस्या को लेकर जब बुजुर्ग बैठा भूख हड़ताल पर।

Advertisement
Advertisement

पिंडरा/संसद वाणी
मंगारी नेवादा स्थित पेयजल नलकूप से 15 दिनों से मोटर खराब होने से ठप जलापूर्ति पर बुर्जुग का गुस्सा भड़का और अकेले ही जा पहुचे पेयजल नलकूप और भूख हड़ताल पर बैठ गए । देखते आम लोग भी बुजुर्ग के समर्थन में उतर गए।
बताते है कि उक्त नलकूप से 10 हजार से अधिक की आबादी लाभान्वित होती है लेकिन गत 15 दिनों से मोटर जलने के कारण जलापूर्ति ठप होने से ग्रामीण परेशान थे। इसी बीच पीने के पानी की समस्या से जूझ रहे मंगारी निवासी 85 वर्षीय बुजुर्ग व अखबार के हाकर रहे प्रभुनाथ गुप्ता अकेले ही पेयजल नलकूप के अधिकारियों के खिलाफ पौने 12 बजे कड़ाके के धूप में पेयजल नलकूप पहुच भूख हड़ताल पर बैठ गए। जिसकी जानकारी जब आम लोगों को हुई तो वह भी उनके समर्थन में धरने पर बैठ गए। इसके बाद इसकी सूचना 112 नम्बर को मिली तो वह बुजुर्ग को किसी तरह पानी पिलाकर उनका भूख हड़ताल खत्म कराया और समझा बुझाकर उन्हें घर लौटाया। वही इस दौरान जनता जेई और एक्सईन को फोन लगाती रही लेकिन उनका फोन नही उठा।
जिससे क्षेत्र की जनता में आक्रोश दिखा। इस दौरान पप्पू सिंह बीडीसी श्याम मोहन गुप्ता, मयंक जायसवाल, विजय गुप्ता, नीलेश जायसवाल, त्रिलोकी विश्वकर्मा समेत अनेक ग्रामीण उपस्थित रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post बिना मान्यता के चल रहे तीन स्कूलों में लगा ताला
Next post ससुराल में लगाई फांसी, मायके वालों ने की तोड़तोड़।