दो वर्ष मौत के दो वर्ष पुलिस ने बताया सच, सीबीआई जांच की मांग

Advertisement
Advertisement

पिंडरा/संसद वाणी
दो वर्ष पूर्व संदिग्ध परिस्थितियों में रामनगर स्थित एक तालाब डूब कर युवक के मरने के मामले में कांग्रेस पार्टी के नेताओ ने सोमवार को राज्यपाल से उक्त मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है।
कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष राजीव कुमार के नेतृत्व में राज्यपाल को संबोधित पत्रक उप जिलाधिकारी पिंडरा को देते हुए आरोप लगाया कि बीएचयू का छात्र शिव कुमार द्विवेदी जो मध्य प्रदेश का रहने वाला था। उक्त छात्र को लंका पुलिस ने फरवरी 2020 को रात्रि को हिरासत में ले गई। मृतक का मित्र अर्जुन सिंह ने मृतक के पिता को फोन द्वारा इसकी सूचना दी तो तो मृतक के पिता ने चीफ प्रॉक्टर को प्रार्थना पत्र दिया । लेकिन सुनवाई नही हुई उसके बाद मृतक के पिता ने थाना लंका को प्रार्थना पत्र दिया तब जांच का आश्वासन देकर टरका दिया। । कई महीनों तक प्रार्थी ने थाने का चक्कर काटता रहा लेकिन सुनवाई नही हुई। इसी बीच बीएचयू का छात्र व हाईकोर्ट के वकील सौरभ तिवारी ने हाईकोर्ट में याचिका दायर किया तो हाईकोर्ट के निर्देश पर जब वाराणसी पुलिस को खोजबीन करने की आदेश आदेश दिया तो पुलिस वालों ने 3 दिन पहले कोर्ट को बताया कि कि 2 वर्ष पहले रामनगर के जमुना तालाब के पास शिवकुमार त्रिपाठी का शव बरामद हुआ था। कांग्रेसियों ने हिरासत के बाद शव मिलने और दो वर्ष बाद परिजनों को जानकारी देने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई के साथ सीबीआई जांच की मांग की। इस दौरान अनुसूचित जाति विभाग के जिला अध्यक्ष बृजेश कुमार जैसल,जसवंत यादव,प्रदीप वेनवंशी, रविंदर कुमार, राहुल कनौजिया ,राकेश कनौजिया, गोपाल, राम, पिंटू लाल समेत अनेक लोग रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post मलेरिया उन्मूलन के लिए हुई गोष्ठी।
Next post रोटरी डीजी ने संत देहलुदास पार्क का किया उदघाटन।