अपहरण मामले में पुलिसकर्मी सहित दो गिरफ्तार

Advertisement
Advertisement

• महिला कांस्टेबल के पिता का ही पुलिसकर्मियों ने कर लिया अपहरण

• एकतरफा प्यार में कांस्टेबल ने ही किया था महिला कांस्टेबल के पिता का अपरहण
संसद वाणी/गाजीपुर।

सैदपुर नगर स्थित गंगा पुल से बीते शनिवार को एक अधेड़ के अपहरण के मामले में रविवार को पुलिस ने घटना के 7 घंटे बाद ही अपहृत को छुड़ाते हुए घटना में शामिल एक बाइक और एक बोलोरो वाहन के साथ मुख्य आरोपी एक पुलिसकर्मी सहित एक अन्य व्यक्ति को वाराणसी के जंसा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। जिन्हें रविवार को न्यायालय के समक्ष पेशी होने के कारवाई कर जेल भेजने की कयावद की गई ।
प्राप्त जानकारी के अनुसार चंदौली जनपद के धानापुर थाना क्षेत्र अंतर्गत हिंगुतरगढ़ गांव निवासी मे घनश्याम सिंह बाईक से शनिवार को अपनी पुलिसकर्मी बेटी को सैदपुर क्षेत्र के औड़िहार रेलवे स्टेशन छोड़कर वापस लौट रहे थे। नगर स्थित गंगा पुल पर एक बोलेरो वाहन और एक बाइक सवार लोगों ने मारपीट कर अपहृत कर लिया। कुछ देर बाद अपहरणकर्ता ने अपहृत के पुत्र मध्य प्रदेश के सतना पुलिस कंट्रोल रूम में तैनात शोभित सिंह को फोन कर, 25 लाख रुपए फिरौती की मांग किया। इधर सैदपुर में एक राहगीर की सूचना के बाद पुलिस ने घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे से वीडियो फुटेज खंगालनी शुरू कर दी। कुछ ही देर में वाहन की पहचान हो गई। पहचान के आधार पर पुलिस ने वाहन के मालिक/चालक वाराणसी जनपद के जनसा थाना क्षेत्र निवासी इकराम पुत्र कमरुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया। जिसकी निशानदेही पर पास स्थित मुख्य आरोपी संत कबीर नगर थाने में तैनात पुलिसकर्मी दीपक वर्मा के घर से पुलिस ने अपहृत व्यक्ति को छुड़ाकर, दीपक को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने बताया कि पूछताछ के आधार पर घटना के अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी में टीमें लगी हुई है। अपहरण की इस घटना को बेहद कम समय में शॉट आउट करने वाली सैदपुर पुलिस टीम को 25 हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post नवागत चौकी प्रभारी संदीप पाण्डेय ने संभाला कार्यभार
Next post राज्यपाल मनोज सिन्हा ने किया “कश्मीर इतिहास और परम्परा” का लोकार्पण