राष्ट्र को परम वैभव के शिखर पर पहुंचाना भाजपा का लक्ष्य : राधा मोहन सिंह

Advertisement
Advertisement

परिवार-जाति-क्षेत्र नहीं, राष्ट्रवाद ही भाजपा का मूलमंत्र : राधा मोहन सिंह


भाजपा के तीन दिवसीय कार्यकर्ता प्रशिक्षण शिविर का हुआ शुभारंभ


वाराणसी/संसद वाणी ब्यूरो

विधानसभा चुनाव में सफलता के बाद अब भाजपा नेतृत्व का पूरा ध्यान संगठन को मजबूती देने पर है। पार्टी को आर्थिक मजबूती देने के लिए 42 वें स्थापना दिवस से ‘माइक्रो डोनेशन अभियान’ चला रही भाजपा ने अब कार्यकर्ताओं को पार्टी के मानक पर खरा उतरने तथा संगठन को और मजबूत बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। भाजपा द्वारा अपने कार्यकर्ताओं को पार्टी की नीतियों, सरकार के कार्यों व आम लोगों से कार्यकर्ताओं के जुड़ाव को लेकर प्रशिक्षित किया जाएगा। उत्तर प्रदेश के हर जिले में आयोजित किए जा रहे शिविरों में 15 सत्र होंगे। 15 निर्धारित विषयों पर किसी एक विषय पर पार्टी द्वारा नामित पदाधिकारी अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे।
इसी क्रम में तीन दिवसीय प्रशिक्षण का उद्घाटन शनिवार को महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय की अध्यक्षता में परेड कोठी कैंट स्थित होटल प्रताप पैलेस में भारत माता, पं. दीनदयाल उपाध्याय व डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर व दीप प्रज्वलित करके हुआ।
उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में भाजपा प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह उपस्थित रहे। उन्होंने “भाजपा के इतिहास व विकास" विषय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। प्रशिक्षण वर्ग को सम्बोधित करते हुए राधा मोहन सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी देश की एक ऐसी वैचारिक पार्टी व दल है  जिसमें लोकतंत्र कायम है।   
जनसंघ से लेकर भाजपा की लंबी यात्रा की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि 1980 में भारतीय जनता पार्टी की स्थापना हुई। 13 दिन 13 माह और  साढ़े 4 वर्ष अटल जी के नेतृत्व में सरकार बनाई। 2014 से नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत की सरकार राष्ट्रवाद, सुशासन व विकास के एजेंडे को लेकर काम कर रही है। भाजपा जैसा नेता, नेतृत्व किसी भी दल के पास नहीं है। सांस्कृतिक व वैचारिक स्वाधीनता भी किसी दल के पास नहीं है।

उन्होंने कहा कि हम विचारधारा को लेकर कार्य करने वाली पार्टी के कार्यकर्ता है। राष्ट्र को परम वैभव के शिखर पर पहुंचाना भाजपा का लक्ष्य है। जिसके लिए भाजपा के सभी कार्यकर्ता अहर्निश कार्य कर रहे हैं। श्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि हमने हमेशा वसुंधरा कुटुंबकम और अतिथि देवों भव की बात कही है।
महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय ने मुख्य अतिथि का परिचय कराया। पहले सत्र में हुए प्रशिक्षण कार्यक्रम का संचालन महानगर महामंत्री जगदीश त्रिपाठी ने किया। प्रशिक्षण में आए अभ्यागतों का महिला मोर्चा की कार्यालय मंत्री नेहा कक्कड़ ने तिलक से स्वागत किया।

प्रथम सत्र में इनकी भी रही उपस्थिति

डॉ राकेश त्रिवेदी, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार रविंद्र जायसवाल व डॉक्टर दयाशंकर मिश्र ‘दयालु’, विधायक और पूर्व राज्यमंत्री डॉक्टर नीलकंठ तिवारी, केदारनाथ सिंह, अशोक चौरसिया, नवरतन राठी, प्रदीप अग्रहरि, अशोक तिवारी, डॉक्टर सुदामा पटेल, नम्रता चौरसिया, डॉ राजेश त्रिवेदी, डॉक्टर सुनील मिश्रा
कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र में महानगर विद्यासागर राय, आत्मा विशेश्वर, डॉक्टर आलोक श्रीवास्तव, साधना वेदांती, डॉ गीता शास्त्री, इंजीनियर अशोक यादव, मधुकर चित्रांश, एडवोकेट अशोक कुमार, नवीन कपूर, जगदीश त्रिपाठी, अशोक पटेल, राहुल सिंह, महानगर मीडिया प्रभारी किशोर कुमार सेठ, संतोष सोलापुरकर, डॉ अनुपम गुप्ता, नीरज जायसवाल, बृजेश चौरसिया, डॉक्टर हरि केशरी, किशन कनौजिया, दिलीप साहनी, विवेक मौर्य, डॉ रचना अग्रवाल, धीरज गुप्ता, शैलेंद्र मिश्रा, कुणाल पांडेय, कुशाग्र श्रीवास्तव, ऋतिक मिश्रा, कुसुम पटेल, योगेश सिंह पिंकू, शोभनाथ मौर्या, जितेंद्र सोनकर सहित मोर्चाओं के अध्यक्ष, प्रकल्प, प्रकोष्ठों व विभागों के संयोजक, सह-संयोजक उपस्थित रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक-चोलापुर के मगोलेपुर मे लगायी जन चौपाल
Next post ब्राह्मराष्ट्र एकम ने ‘श्री सेवा प्रकल्प’ नाम से बनाया महिलाओ हेतु आत्मनिर्भर प्रकल्प