सीएमओ ने किया सीएचसी गंगापुर व पीएचसी शिवपुर का औचक निरीक्षण

Advertisement
Advertisement

अनुपस्थित चिकित्सकों, चिकित्साकर्मियों का वेतन काटने का निर्देश।
अव्यवस्था पर लगायी फटकार बोले, नहीं सुधरे तो होगी कड़ी कार्रवाई।

वाराणसी/संसद वाणी
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संदीप चौधरी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र (सीएचसी) गंगापुर व शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र शिवपुर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सीएचसी गंगापुर में अधीक्षक समेत कई चिकित्सक व चिकित्साकर्मी ड्यूटी पर अनुपस्थिति पाये गये। पीएचसी शिवपुर में प्रभारी चिकित्साधिकारी तो अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद मिली पर कई चिकित्साकर्मी अनुपस्थित पाये गये। इससे नाराज सीएमओ ने ड्यूटी से लापता चिकित्सकों व कर्मियों के एक दिन का वेतन काटने का निर्देश देने के साथ ही उनसे जवाब तलब किया है। साथ ही लापरवाही पर फटकार लगाते हुए कहा है कि यदि सुधार नहीं हुआ तो कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
मुख्य चिक्तिसा अधिकारी डा. संदीप चौधरी ने सोमवार की सुबह लगभग आठ बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गंगापुर (पिण्डरा) का औचक निरीक्षण किया । निरीक्षण के समय अधीक्षक डा. करन गौतम, डा. रामाशीष राम डा. रश्मि उपाध्याय, डा० श्रेया सिंह, डा. अनुजा स्मृति अनुपस्थित मिले, जिसमें डा० रामाशीष राम एवं फार्मासिस्ट सुखराम मौर्या तुरन्त ही उपस्थित हो गये। इसके अतिरिक्त चिकित्सालय पर कार्यरत एलटी सुनील कुमार वर्मा, श्री अरविन्द प्रकाश रावत एवं स्टाफ नर्स श्रीमती संयोगिता देवी अनुपस्थित पाई गयीं। चिकित्सालय में शिकायत पेटिका नहीं पाई गयी. इसके साथ ही आकस्मिक ड्यूटी बोर्ड नहीं पाया गया। प्रयोगशाला कक्ष के निरीक्षण में लैब रजिस्टर के अवलोकन से पता चला कि वहां नियमित रूप से जांचें नहीं की जा रही हैं। प्रसव कक्ष एवं वार्ड में एक भी मरीज नहीं मिला। इससे साफ हो गया कि रोगियों को इनडोर सेवाएं नहीं दी जा रही है जबकि चिकित्सालय पर विशेषज्ञ चिकित्सक एवं स्टाफ नर्स तैनात हैं। जननी सुरक्षा योजना एवं जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम के लाभार्थियों का रजिस्टर भी नहीं पाया गया। चिकित्सालय में पीने के पानी के आसपास गन्दगी पाई गयी। ऐसी लापरवाहियों पर सीएमओ ने नाराजगी जतायी और अनुपस्थित अधीक्षक सहित समस्त अनुपस्थित चिकित्सक एवं चिकित्सा कर्मियों के एक दिन का वेतन रोकने का निर्देश दिया। उन्होंने लापरवाह कर्मियों को फटकारते हुए कहा कि जिलाधिकारी ने ब्लाक स्तरीय समस्त चिकित्सक एवं चिकित्सा कर्मियों को अपने कार्य स्थल पर ही निवास करने का निर्देश दिया है, जिससे सभी को अवगत कराया ज चुका है इसके बाद भी कुछ चिकित्सक एक चिकित्साकर्मियों का कार्य स्थल पर निवास न करना बेहद गंभीर है।
यहां से निरीक्षण करने के बाद सीएमओ शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र-शिवपुर पहुंचे। औचक निरीक्षण के समय प्रभारी चिकित्साधिकारी, डा० अनिला सिंह उपस्थित मिली जबकि गोविन्द भारती एवं विनय कुमार सपोर्ट स्टाफ अनुपस्थित पाये गये। उक्त कर्मियों द्वारा अनुपस्थित रहने एवं ससमय कार्य न करने के कारण चिकित्सालय में उपकरणों एवं सामानों का रख-रखाव सुव्यवस्थित तरीके से नहीं पाया गया। सीएमओ ने निर्देश दिया कि सम्बन्धित आउट सोर्सिंग एजेन्सी इन दोनों कर्मियों के स्थान पर दूसरे कर्मियों को नियुक्त करे। एल०टी० चन्द्रकांत त्रिपाठी, धनावती देवी ए०एन०एम० आशा चौरसिया, सोनी कुमारी, रीता पटेल अनुपस्थित पाये गये।अनुपस्थित समस्त कर्मियों का उन्होंने एक दिन का वेतन रोकने का निर्देश दिया।
सीएमओ ने प्रभारी चिकित्साधिकारी, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र-शिवपुर को निर्देश दिया है कि निरीक्षण के समय अनुपस्थित कर्मियों से स्पष्टीकरण प्राप्त कर अपनी स्पष्ट आख्या के साथ अधोहस्ताक्षरी को अवगत कराये। उन्होंने चेतावनी दी है कि संतोषजनक प्रतिउत्तर प्राप्त न होने पर इस वर्ष का वार्षिक वेतन वृद्धि रोक दी जायेगी।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post नामांकन वृद्धि में सहयोग करने वाले प्रधानाध्यापकों का किया गया सम्मान
Next post निक्षय पोर्टल पर निजी चिकित्सक खुद करें क्षय रोगियों का पंजीकरण, नहीं तो होगी कार्रवाई – जिलाधिकारी