हेड कांस्टेबल सुजीत ओझा ने अपनी सूझबूझ व मुस्तैदी दिखाते हुए तीन जिंदगियां बचा लीं

Advertisement
Advertisement

चंदौली: जलीलपुर चौकी के हेड कांस्टेबल सुजीत ओझा ने अपनी सूझबूझ व मुस्तैदी दिखाते हुए तीन जिंदगियां बचा लीं ऐसे पुलिस कर्मरियों कर ऊपर गर्व है। गृहकलह के तंग एक महिला अपने दो मासूम बच्चों को लेकर जान देने की नीयत से रेलवे ट्रैक पर पहुंच गई। ट्रेन आती, इससे पहले पड़ाव क्षेत्र के जलीलपुर चौकी के हेड कांस्टेबल सुजीत ओझा की नजर महिला पर पड़ गई। वह झट से मौके पर पहुंचे और महिला को समझा-बुझाकर बच्चों समेत चौकी ले आए।

हालांकि महिला मानने को तैयार नहीं हो रही थी, लेकिन पुलिसकर्मी के काफी समझाने के बाद उसने इरादा बदल दिया। बताया जा रहा है कि परिवार में आएदिन हो रही किचकिच से तंग आकर वह बच्चों के साथ जान देने जा रही थी। पुलिसकर्मी के इस प्रयास की काफी तारीफ हो रही है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post विश्व योग गुरु का बरजी पहुचने पर भव्य हुआ स्वागत
Next post किसानों को जागरूकता के लिए लगाया जाएगा हर ग्राम पंचायत में किसानों की संगोष्ठी ।