देव संस्कृति विश्वविद्यालय हरिद्वार के प्रति कूलपति श्रद्धेय डा0 चिन्मय पाण्ड्या का आगमन कल।

Advertisement
Advertisement

वाराणसी/संसद वाणी

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रति कूलपति डा0 चिन्मय पाण्ड्या जी का दिनांक 07.05.2022 दिन शनिवार को सायं 06.00 बजे, वाराणसी में आगमन होगा। डा0 पाण्ड्या गायत्री तीर्थ शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान एवं गायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ, वाराणसी के संयोजन में होने वाले दो दिवसीय कार्यक्रम दिनांक 07.05.2022 को सायं 07.00 बजे से होने वाले विराट जन-जागरण दीप महायज्ञ एवं दिनांक 08.05.2022 दिन रविवार को सुबह 07.00 बजे से होने वाले दस सहस्त्र युवाओं द्वारा सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान का प्रत्यक्ष मार्गदर्शन एवं दिशानिर्देश वाराणसी स्थित राजघाट पर बने विशाल मंच से प्रदान करेंगे एवं उपस्थित विशाल जन समूह को सम्बोधित करेंगे। जिला समन्वयक एवं कार्यक्रम संयोजक पं0 गंगाधर उपाध्याय ने बताया कि डा0 चिन्मय पाण्ड्या प्रखर वक्ता ,गायत्री परिवार के प्रमुखों में से एक संयुक्त राष्ट्र संगठन यूएनओ ओर से विश्व शान्ति के लिये गठित अंतरराष्ट्रीय समाजिक अध्यात्मिक मंच के निदेशक, नोबेल पुस्कार के समकक्ष टेम्पल्टन पुस्कार की ज्यूरी के मेम्बर है, जो गायत्री परिवार द्वारा आयोजित दो दिवसीय कार्यक्रम में प्रत्यक्ष भागीदारी एवं सायं 07.00 बजे राजघाट स्थित बने विशाल मंच से अपने विचार व्यक्त करेंगे। दो दिवसीय कार्यक्रम के मुख्य अतिथि देव संस्कृति विश्वविद्यालय के प्रति कूलपति एवं अखिल विश्व गायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ के प्रमुख डा0 चिन्मय पाण्ड्या जी एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री लक्ष्मण आचार्य जी होंगे साथ ही अखिल विश्व गायत्री परिवार युवा प्रकोष्ठ के उत्तर जोन प्रभारी एवं शान्तिकुंज प्रतिनिधि केदार प्रसाद दूबे एवं श्री आशीष कुमार सिंह की भी गरिमामयी उपस्थिति रहेगी। पं0 गंगाधर उपाध्याय ने आगे बताया कि परम पूज्य गुरूदेव पं. श्रीराम शर्मा आचार्य को गायत्री मंत्र की दीक्षा देने वाले पूज्य गुरूदेव पं0 मदन मोहन मालवीय जी द्वारा दस हजार युवाओं द्वारा गंगा तट पर सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान के सपनों को पूर्ण करने हेतु गायत्री परिवार उपजोन वाराणसी के गायत्री साधकों के साथ-साथ केन्द्रीय देव दीपावली महासमिति, पहल समाजोत्कर्ष समिति, काशी विश्वनाथ दल, नाविक समाज, काशी गुजराती समाज, काशी बंगीय समाज, काशी महाराष्ट्रीय समाज आदि के साथ ही साथ देव दीपावली एवं गंगा आरती की काशी के गंगा घाटों पर समस्त संस्थाओं की भागीदारी प्रमुखता से इस कार्यक्रम को प्राप्त होगी। गायत्री परिवार दिनांक 07.05.2022 को सायं 07.00 बजे से होने वाले विराट जन-जागरण दीप महायज्ञ एवं दिनांक 08.05.2022 को सुबह 07.00 बजे से वाराणसी के समस्त गंगा तटो पर होने वाले दस सहस्त्र युवाओं द्वारा सामूहिक सूर्य अर्ध्यदान की तैयारियों को अन्तिम रूप देने जुटा है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post भटकती अर्धविक्षिप्त महिला को ग्रामीणों ने पुलिस को सौंपा
Next post चन्दौली के चकिया में मगरमच्छ ने मासूम बच्चे को बनाया शिकार, नाराज ग्रामीणों ने किया चक्काजाम