विश्वनाथ मंदिर की सुरक्षा को लेकर प्लान माँगा गया।

Advertisement
Advertisement

कमिश्नर ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर नए सिरे से सुरक्षा प्लान तैयार किया जा रहा

वाराणसी/संसद वाणी

श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के बनने के बाद उसके सुरक्षा के खाके को भी दोबारा से सजाने की कवायद हो रही है। इसी क्रम में विश्वनाथ मंदिर में सुरक्षा संभाल रहे केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) को धाम की सुरक्षा का प्लान तैयार करने का कार्य मंदिर और पुलिस प्रशासन ने दिया है। उनसे सिक्योरिटी प्लान माँगा गया है।
इस सम्बन्ध में कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बताया कि केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के पास सुरक्षा व्यवस्था का विशेष अनुभव है। वह कई अन्य बड़ी संस्थाओं में परामर्शदाता के रूप में काम कर रही है। ऐसे में विश्वनाथ मंदिर की सुरक्षा को लेकर प्लान माँगा गया है। सीआईएसएफ एयरपोर्ट सहित कई अन्य बड़े निजी संस्थानों में कंसलटेंट है। 20 अप्रैल को आहूत बैठक में सुरक्षा प्लान का प्रजेंटेशन होना था, लेकिन बैठक स्थगित हो गई थी। बैठक इसी हफ्ते हो सकती है।
कमिश्नर ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर नए सिरे से सुरक्षा प्लान तैयार किया जा रहा है। विगत दिनों मुख्य सचिव व डीजीपी ने कॉरिडोर का निरीक्षण कर मंदिर न्यास व पुलिस विभाग का संयुक्त सुरक्षा प्लान देखा। अब शासन ने सुरक्षा प्लान तैयार करने में सीआईएसएफ की भी मदद लेने का निर्देश दिया है।
बता दें कि वर्ष 1991 के बाद से विश्वनाथ मंदिर व ज्ञानवापी की सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस और सीआरपीएफ के पास है। तब सुरक्षा की दृष्टि से बने रेड, येलो और ग्रीन जोन का कुल क्षेत्रफल करीब 5000 वर्ग मीटर था। विश्वनाथ धाम बनने के बाद क्षेत्रफल करीब 53 हजार वर्ग मीटर तक पहुंच गया है।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post ABVP के कार्यकर्ताओं ने भूख हड़ताल की, जाने क्या है कारण
Next post रेलवे ट्रैक पर अज्ञात अधेड़ का शव मिला